कोर्ट के आदेश पर किया गया किशोरी का गर्भपात, कलयुगी पिता ने किया था बलात्कार

मथुरा में पिता की हवस का शिकार बनी किशोरी का गर्भपात कराया गया। कोर्ट के आदेश पर आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर ने उसका गर्भपात किया। उसके पेट में तीन माह का गर्भ था।
रिश्तों को कलंकित करने का यह मामला पिछले दिनों शहर में घटित हुआ था। हैवान बना एक पिता अपनी बेटी के साथ रेप कर रहा था। जब बेटी गर्भवती हो गई तो कलयुगी बाप की करतूत उजागर हुई।

नाबालिग की मां की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया और पिता को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। किशोरी तीन माह की गर्भवती थी। कोर्ट के आदेश पर उसका गर्भपात कर भ्रूण सुरक्षित रखा गया है। कोर्ट से मांगी थी इजाजत
पीड़ित किशोरी की मां ने एडीजे अष्टम विवेकानंद शरण त्रिपाठी की कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया था कि पुत्री की हालत को देखते हुए उसका गर्भपात कराने की अनुमति दी जाए तथा उसे मां को सुपुर्द किया जाए।

कोर्ट ने मां की गुहार पर यौन उत्पीड़न की शिकार करीब 13 वर्षीय किशोरी को मां के सुपुर्द किए जाने के आदेश किए थे। कोर्ट ने यह भी कहा कि डाक्टरों की राय लेकर पीड़िता का गर्भपात करा दिया जाए तथा उसके भ्रूण को सुरक्षित रखा जाए।

एडीजीसी वीरेंद्र लवानियां ने बताया कि कोर्ट ने भ्रूण का सुरक्षित रखने का आदेश इसलिए दिया है ताकि आगे जांच में उसका प्रयोग किया जा सके। फिलहाल आगरा के मेडिकल कॉलेज में किशोरी की भर्ती है। उसकी हालत ठीक बताई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *