NCR में दिखी धुंध

दिल्ली-एनसीआर में शनिवार सुबह जब लोगों की नींद खुली तो धुंध और धुएं का साया एक बार फिर से आसमान पर छाया था. ये एक बेहद खतरनाक संकेत है. दिल्ली के आनंद विहार में हवा की गुणवता शनिवार को खतरनाक स्तर को पार कर चुकी है. यहां का एयर क्वालिटी इंडेक्स 699 तक पहुंच गया था. एयर क्वालिटी इंडेक्स वो पैरामीटर है, जिसमें सांस के रूप में ली जाने वाली ऑक्सीजन की शुद्धता मापी जाती है. इस लिहाज से ये हवा सांस लेने के लिए कतई मुफीद नहीं है.

अभी सर्दी के मौसम की शुरुआत है और आने वाले दिनों में स्थिति बदतर होने की आशंका है. आजतक ने शुक्रवार को ही अपनी एक रिपोर्ट में बताया था कि पंजाब और हरियाणा में पराली जलाने की प्रक्रिया शुरू होने के साथ दिल्ली की हवा जहरीली हो सकती है. अगले ही दिन दिल्ली/एनसीआर की हवा खराब होनी शुरू हो गई. दिल्ली में धुंध और धुएं का गुबार पड़ोसी राज्य हरियाणा और पंजाब से आ रहा है. इन राज्यों में किसान पराली (फसलों के अवशेष) को अपने खेतों में जला रहे हैं. इससे निकला धुआं दिल्ली के लोगों का दम घोंट रहा है. हैरानी की बात ये है कि ये सिलसिला सालों से चलता आ रहा है लेकिन तीन राज्यों की सरकारें लगभग 2.5 करोड़ लोगों की जिंदगी से जुड़े इस खतरे को दूर करने के लिए कोई गंभीर प्रयास नहीं कर रही है.