संभल: हलाला पीड़िता पर तेजाब हमला निकला झूठा, भाई ने ही तैयार की थी स्क्रिप्ट

तीन तलाक और हलाला पीड़िता पर तेजाब से हमले की वारदात झूठी साबित हुई। एसपी की मौजूदगी में पीड़िता के भाई ने स्वीकार किया कि बहन के ससुराल पक्ष के लोगों की गिरफ्तारी न होने से बहनोई के घर झूठी स्क्रिप्ट तैयार की गई थी। इसके बाद बैटरी का तेजाबयुक्त पानी बहन और अपने ऊपर डाल लिया था।
मुरादाबाद जिले के मैनाठेर थाना क्षेत्र के एक गांव की तीन तलाक व हलाला पीड़िता ने एक सितंबर को पति, ससुर, ममेरे ससुर और दो मौलवियों के खिलाफ तीन तलाक और फिर जबरन हलाला कराने के मामले में गैंगरेप का मुकदमा दर्ज कराया था। इसके बाद रविवार को पीड़िता ने ससुराल पक्ष के लोगों पर उस पर व उसके भाई पर तेजाब से हमला कर झुलसा देने का आरोप लगाया था। भाई ने ससुरालवालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।
पुलिस को शुरू से था संदेह
पुलिस शुरू से ही घटना को संदेह की नजर से देख रही थी। पुलिस अधीक्षक ने सोमवार को पत्रकारों के सामने साफ किया कि हलाला पीड़िता पर उसके ससुराल वालों ने तेजाब से हमला नहीं किया, बल्कि पीड़िता और उसके भाई ने ससुरालवालों को फंसाने के लिए कहानी बनाई थी। एसपी की मौजूदगी में पीड़िता के भाई ने माना कि बहन के ससुराल पक्ष के लोगों की गिरफ्तारी न होने पर बुलंदशहर की शबनम की तरह वारदात की स्क्रिप्ट तैयार की। एसपी ने कहा कि तेजाब हमले का झूठा मुकदमा दर्ज कराने को लेकर पीड़िता के भाई और योजना बनाने में शामिल लोगों पर विधिक कार्रवाई की जाएगी।