दुनिया में फिर पीएम मोदी का डंका, अब मिला ‘सियोल पीस प्राइस अवार्ड’

पीएम नरेंद्र मोदी का दुनिया में एक बार फिर से डंका बजा है. ‘चैंपियंस ऑफ अर्थ’ के खिताब के बाद अब पीएम नरेंद्र मोदी को वैश्विक अर्थव्यवस्था में योगदान के लिए एक और सम्मान से नवाजा जाएगा. प्रतिष्ठित सियोल पीस प्राइस 2018 का अवार्ड पीएम मोदी को दिया जाएगा.

सियोल पीस प्राइज कल्चरल फाउंडेशन के मुखिया वोन ई-ह्योक ने इस बात का ऐलान किया है. पीएम मोदी को मोदीनॉमिक्स के जरिए भारत और दुनिया में अमीरों और गरीबों के बीच की खाई को कम करने के लिए इस सम्मान के लिए चुना गया है. फाउंडेशन ने वैश्विक शांति, मानव विकास में योगदान और लोकतंत्र को और मजबूत करने के लिए उठाए गए पीएम के कदमों की भी सराहना की है.

फाउंडेशन ने पीएम मोदी के भ्रष्टाचार रोकने के लिए उठाए गए नोटबंदी जैसे कदमों के अलावा वैश्विक जिम्मेदारियों का निर्वहन करने में समर्पण और उनकी लगन को देखते हुए यह सम्मान देने का फैसला किया है.

प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए पीएम मोदी के नाम का ऐलान होने के बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया. ट्वीट में उन्होंने बताया कि पीएम मोदी का लोहा दुनिया ने भी मान लिया है.

प्रतिष्ठित सियोल पीस प्राइज 1990 से दिया जा रहा है. यह पुरस्कार अब तक संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान, जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल जैसी शख्सियतों को दिया जा चुका है. इस अवार्ड के लिए दुनियाभर से कुल 1300 नामांकन आए थे. अवार्ड कमेटी ने उनमें से 100 उम्मीदवारों को अलग किया गया. इन 100 उम्मीदवारों में से पीएम मोदी का चयन किया गया. कमेटी ने पीएम मोदी को ‘द परफेक्ट कैंडिडेट फॉर द 2018 सियोल पीस प्राइज’ कहा है.

गौरतलब है कि इससे पहले सितंबर माह में पर्यावरण के क्षेत्र में ऐतिहासिक कदम उठाने के लिए संयुक्त राष्ट्र (UN) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चैंपियंस ऑफ अर्थ के खिताब से सम्मानित किया था. राजधानी दिल्ली में हुए कार्यक्रम में यूएन चीफ एंटोनियो गुटेरेस ने प्रधानमंत्री को सम्मानित किया था. पीएम मोदी के अलावा ये अवॉर्ड फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैंक्रो को भी दिया गया था.