अयोध्या में बनने वाली मस्जिद की सामने आई तस्वीर

उत्तर प्रदेश सुन्नी वक्फ़ बोर्ड ने अयोध्या में बनने वाले मस्जिद का प्रारूप सार्वजनिक कर दिया है.

हिंदुस्तान टाइम्स में छपी एक ख़बर के अनुसार शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन में आर्किटेक्ट एसएम अख़्तर ने मस्जिद और अस्पताल का डिज़ाइन सार्वजनिक किया.

ये मस्जिद अंडाकार होगी और दो मंजिल की इस मस्जिद के डिज़ाइन में कोई गुबंद या मीनार नहीं होगी. इसमें एक साथ 2000 नमाज़ी नमाज़ पढ़ सकेंगे. यहां महिला नमाज़ियों के लिए भी अलग जगह बनाई जाएगी.

अख़बार के अनुसार मस्जिद के परिसर में ही एक अस्पताल का भी निर्माण किया जाएगा. मस्जिद के पास एक सामुदायिक किचन और इंडो-इस्लामिक कल्चर रीसर्च सेंटर भी बनाया जाएगा.

वक्फ़ बोर्ड के हवाले से अख़बार ने कहा है कि इस्लाम में भूमिपूजन नहीं किया जाता इसलिए मस्जिद के लिए भी ऐसे किसी कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाएगा. हालांकि, मस्जिद की नींव 26 जनवरी 2021 या फिर 15 अगस्त 2021 में रखी जाएगी.

रामजन्म भूमि बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट का फ़ैसला आने के बाद उत्तर प्रदेश सुन्नी वक्फ़ बोर्ड ने इंडो-इस्लामिक कल्चर फाउंडेशन नाम का ट्रस्ट बनाया जिसकी ज़िम्मेदारी अयोध्या के पास मस्जिद बनाना है.