पाकिस्तानी गेंदबाज़ मोहम्मद आमिर ने लिया संन्यास, पीसीबी पर लगाए ‘मानसिक प्रताड़ना’ के आरोप

पाकिस्तान के तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद आमिर ने अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान किया है. उन्होंने टीम के सीनियर मैनेजमेंट पर ख़ुद को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है.

आमिर साल 2019 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं.

अपनी हताशा को ज़ाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि जिस तरह उनके साथ बोर्ड ने बर्ताव किया और जब न्यूज़ीलैंड में होने वाली सीरिज़ के लिए गठित की गई 35 लोगों की टीम में जगह नहीं मिली तो इससे उन्हें झटका लगा.

एक रिपोर्टर से बात करते हुए आमिर ने कहा, “मैं क्रिकेट से दूर नहीं जा रहा हूँ. मुझे क्रिकेट से दूर किया जा रहा है. आप सभी को दिख रहा है, कैसा माहौल बनाया जा रहा है. मुझे उसी वक़्त वेक-अप कॉल मिल गई थी जब मेरा नाम 35 लड़कों की टीम में शामिल नहीं किया गया था.”

उन्होंने कहा, “जो महौल बन चुका है मुझे नहीं लगता कि इस मैनेजमेंट के अंडर में मैं क्रिकेट खेल सकता हूं. मैं क्रिकेट छोड़ रहा हूँ क्योंकि जिस तरह से मुझे मानसिक प्रताड़ना दी जा रही है मुझे नहीं लगता कि ये प्रताड़ना मैं और झेल सकता हूँ. 2010 से लेकर 2015 तक मैंने बहुत टॉर्चर झेला है. मैंने ग़लती की थी और सज़ा भी भुगती.”