प्रियंका बोलीं- सरकार बताए पिछले पांच साल में क्या किया……..

 कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की तीन दिवसीय गंगा यात्रा का आज दूसरा दिन है। आज प्रियंका गांधी मिर्जापुर में विंध्याचल मंदिर जाएंगी। इस दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं से भी प्रियंका गांधी मुलाकात करेंगी। सोमवार को प्रियंका गांधी ने प्रयागराज से अपनी बोट यात्रा शुरू की थी। इससे पहले प्रियंका भदोही के सीतामढ़ी के वाल्मीकि घाट पर सोमवार शाम पहुंचीं। प्रियंका ने सबसे पहले गंगा पूजन किया। वैदिक मंत्रों के बीच गंगा से अरदास लगाई और जनता तक अपनी अवाज पहुंचाई। पूर्वांचल की सियासी जमीन साधने जलयात्रा पर निकलीं प्रियंका को इस गंगा यात्रा से बड़ी उम्मीदें हैं। यूपी और देश की राजनीति में 1991 के चुनाव के बाद कांग्रेस के बिखरते जनाधार को बचाने की कोशिश नजर आई है। संभवता यह पहला प्रयोग है जब प्रियंका गंगा की शरण में पहुंचकर पूर्वांचल साधने में जुटी हैं।  हालांकि देर शाम होने के चलते प्रशासन ने उन्हें जलमार्ग की जगह सड़क मार्ग से भदोही पहुंचाया। कांग्रेस महासचिव गंगा यात्रा के जरिए भदोही के बाद मंगलवार को मिर्जापुर और बुधवार को  वाराणसी पहुंचेंगी।

उत्तर प्रदेश के चुनावी इतिहास में संभवत: यह पहली बार हो रहा है जब किसी राजनैतिक दल और राजनेता की तरफ से जलमार्ग का रास्ता चुना गया है। यह अपने आप में गंगा के किनारे बसे गावों और वहां के लोगों के लिए कौतुहल का विषय रहा और प्रियंका देखने भीड़ भी गंगा घाट पर उमड़ी।