माता-पिता की हत्या के लिए बेटी ने दी थी एक लाख की सुपारी…….

माता-पिता की हत्या के लिए सोनिया ने एक लाख रुपये में दो लोगों को सुपारी दी थी। सोनिया और उसके प्रेमी प्रिंस ने इन्हीं दोनों की सहायता से दंपति की हत्या की और शवों को ब्रीफकेस में भरकर फेंक दिया था।

फरार आरोपियों की तलाश में छापेमारी :फिलहाल सोनिया और प्रिंस तिहाड़ जेल में बंद हैं और पुलिस दोनों फरार आरोपियों की तलाश कर रही है। जांच से जुड़े वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि सोनिया ने प्रिंस की सहायता से दोनों को ढूंढ़ा था। दरअसल, प्रिंस के साथ रघुवेंद्र नाम का व्यक्ति काम करता था। प्रिंस ने उसे ही एक लाख रुपये देने का वादा किया। फिर रघुवेंद्र ने अपने नाबालिग भतीजे को भी इस योजना में शामिल कर लिया।

दिल्ली: युवती ने माता-पिता की हत्या कर शव ब्रीफकेस में डाल नाले में फेंका

हत्या कर चाचा-भतीजा फरार :तय योजना के अनुसार, पति-पत्नी की हत्या करने के बाद चाचा-भतीजा फरार हो गए। 8 मार्च को नाले में पड़े ब्रीफकेस से जागीर कौर और अगले दिन उसके पति गुरमीत की सड़ी गली लाशें मिलीं। इसके बाद पश्चिम विहार एसीपी विनय माथुर की देखरेख में एसआई रितुराज की टीम गठित की गई। जांच में सबूत मिलने पर पुलिस ने सोनिया और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया।

प्रेमी युगल दिसंबर से साजिश रच रहा था

आरोपियों से पूछताछ में पुलिस को मालूम हुआ कि बीते साल दिसंबर में सोनिया ने अपने माता-पिता से मकान उसके नाम करने की बात कही थी।मगर माता-पिता ने उसे साफ-साफ कह दिया कि अपने जिंदा रहते वे मकान उसके नाम पर बिल्कुल भी नहीं करेंगे। इस बात से सोनिया अपने माता-पिता से काफी नाराज थी।वह बीते दिसंबर से ही अपने माता-पिता को खत्म करने की साजिश रच रही थी। उसने यह बात अपने प्रेमी प्रिंस को भी बताई। फिर ये लोग मौका तलाशने लगे। जल्द ही इन्हें मौका मिल गया, जब जागीर कौर अपने पति को छोड़कर कुछ दिनों के लिए मायके चली गई थीं।