खिताबी जीत के बाद कप्तान रोहित ने कहा- धौनी ने मैच जीतना सिखाया

भारत ने शुक्रवार को कांटे की टक्कर वाले फाइनल मैच में बांग्लादेश को आखिरी गेंद पर हराकर 7वीं बार एशिया कप का खिताब अपने नाम किया। नियमित कप्तान विराट कोहली के बिना बड़ा टूर्नामेंट जीतने के लिए रोहित शर्मा की काफी तारीफ हो रही है। वहीं रोहित का मानना है कि उन्होंने एम एस धौनी से सीखा है कि कैसे तनावपूर्ण स्थिति से निकलकर टीम को जीत दिलानी है।
शुक्रवार को भारत ने आखिरी बॉल पर एक रन लेकर बांग्लादेश को 3 विकेट से हराकर मैच अपने नाम किया। मैच के बाद कप्तान रोहित ने कहा, “हम हमेशा धौनी भाई से सीखते रहते हैं, क्योंकि वो एक लजवाब कप्तान रहे हैं। मैंने उन्हें काफी सालों तक कप्तानी करते देखा है। वो ऐसे हालात में शांत रहते हैं और नतीजे पर आने से पहले सोचते जरूर हैं। उनके नेतृत्व में हमने इतने साल खेला है, वो हमेशा अपनी राय देते हैं, चाहे कैसी भी स्थिति हो।”
आखिरी गेंद पर भारत ने बांग्लादेश से छीना मैच, बना ASIA का बादशाह
अच्छे प्रदर्शन का फल मिला
रोहित शर्मा का मानना है कि टीम इंडिया ने पूरी सीरीज में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया जिसका फल उन्हें मिला। उन्होंने कहा, ” हमने पूरे टूर्नामेंट में लगातार अच्छा खेल दिखाया है और यह उसी मेहनत का फल है। मैं इसी तरह के तनावपूर्ण मैच का पहले भी हिस्सा रही हूं। मैं अपनी टीम के खिलाड़ियों को श्रेय देना चाहता हूं कि उन्होंने धैर्य बनाए रखा और शानदार जीत के साथ अंत किया।”
धौनी ने फिर दिखाई ‘बिजली’ जैसी तेजी, भारत को मिला सबसे बड़ा विकेट
बांग्लादेश ने जबाव में ला दिया था
एक समय पर बांग्लादेश ने भारत को दबाव में ला दिया था, जो खुद कप्तान रोहित को भी महसूस हुआ। रोहित शर्मा ने बांग्लादेश की तारीफ करते हुए कहा, “हमें बांग्लादेश को जरूर इसका श्रेय देना चाहिए । उन्होंने मैच के पहले 10 ओवरों में हमें दबाव में ला दिया था।” अपनी कप्तानी को लेकर उन्होंने कहा, “अगर आपके पास इतनी काबिल टीम है तो कप्तान हमेशा ही अच्छा दिखेगा। टीम के बाकी 10 खिलाड़ियों के बिना यह जीत हासिल नहीं करते हैं।”