आज शुक्रवार को अंतरिम बजट पेश होना है….

वित्त मंत्री अरुण जेटली  की जगह रेल मंत्री पीयूष गोयल अंतरिम बजट पेश करेंगे। अरुण जेटली अस्वस्थ हैं और इलाज के लिए विदेश में हैं, इस वजह से गोयल को वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। आइए जानते हैं पीयूष गोयल के बारे में..

पीयूष वेदप्रकाश गोयल के पास रेल मंत्रालय के अलावा वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार है। वह राज्यसभा के सदस्य हैं। पीयूष गोयल को इससे पहले नवगठित मोदी सरकार में बिजली, कोयला और नई और नवीकरणीय ऊर्जा के लिए स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री बनाया गया था।

महाराष्ट्र के मुंबई में 13 जून 1964 को जन्में पीयूष गोयल के पिता वेद प्रकाश गोयल भाजपा खजांची के तौर पर काम कर चुके हैं। पीयूष गोयल ने मुंबई विश्वविद्यालय से कानून की डिग्री हासिल की। वह पेशे से चार्टेड एकाउंटेंट और बैंकर थे। अपने पिता के नक्शेकदम पर वह साल 1984 में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल हुए। वह पार्टी के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष के रूप में भी काम कर चुके हैं।

वह बैंक ऑफ बड़ौदा और भारतीय स्टेट बैंक के बोर्ड मेंबर के तौर पर काम कर चुके हैं। गोयल 2010 में भाजपा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष बने और  उसी साल उन्हें राज्यसभा के लिए चुना गया। उन्हे 2014 में ऊर्जा, कोयला और नई और नवीकरणीय ऊर्जा के लिए राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दिया गया।