विहिप की धर्म संसद से पहले कुंभ में योगी आदित्यनाथ और मोहन भागवत ने की मुलाकात…..

मंगलवार को प्रयागराज में कैबिनेट की बैठक कर इतिहास रचने वाले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज एक बार फिर प्रयागराज पहुंचे। यहां पहुचकर सीएम योगी ने सबसे पहलें झूंसी में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से भेंट की। इसके बाद सीएम शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती, जूना पीठाधीश्वर अवधेशानंद गिरि और महंत नृत्य गोपालदास से भी मुलाकात करेंगे।

आज से कुंभ में विश्व हिन्दू परिषद की अगुवाई में होने वाली धर्म संसद से पहले सीएम योगी ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात की। हालांकि सीएम योगी इस धर्म संसद में शामिल नहीं होंगे। धर्म संसद से पहले सीएम की आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत तथा प्रयागराज कुंभ में एकत्र संतों से भेंट काफी अहम मानी जा रही है।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण, गो, गंगा समेत अन्य मुद्दों पर विश्व हिन्दू परिषद की दो दिवसीय धर्म संसद आज से शुरू हो रही है। इसमें हिस्सा लेने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत बुधवार को ही कुंभ मेला क्षेत्र में पहुंच गए थे। योगगुरु बाबा रामदेव, जूनापीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरि, गोविन्द गिरि, स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती, चिदानंद मुनि, माता अमृतामयी, जैन सम्प्रदाय के संत कमल मुनि, हंसदेवाचार्य, निम्बार्काचार्य, अखाड़ों के प्रतिनिधि, महामंडलेश्वर समेत पांच हजार लोग शामिल होंगे।

यूपी: राम मंदिर निर्माण पर विहिप की दो दिवसीय धर्म संसद आज से

विहिप के सेक्टर-14 स्थित शिविर में दोपहर 1 से 4 बजे तक होने जा रही धर्म संसद में सबरीमाला मंदिर में यथास्थिति बनाए रखने, सामाजिक समरसता आदि मुद्दे भी रखे जाएंगे। संतों की ओर से भी मुद्दे विचार के लिए रखे जा सकते हैं। धर्म संसद में विहिप के केंद्रीय अध्यक्ष वीएस कोकजे, कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार, केंद्रीय महामंत्री संगठन विनायक राव देशपांडेय, केंद्रीय उपाध्यक्ष चम्प राय, केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांदे, केंद्रीय संत सम्पर्क प्रमुख अशोक तिवारी, केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल के संयोजक जीवेश्वर मिश्रा आदि पदाधिकारी भी मौजूद रहेंगे।