यूपी बोर्ड फिजिक्स पेपर: 9 में से 4 प्रश्नों में मिलेगा आंतरिक विकल्प….

पहली बार भौतिकी का एकल पेपर होगा। इसमें कुल नौ प्रश्न होंगे। पहला प्रश्न बहुविकल्पीय होगा जिसमें एक-एक अंक के 06 सवाल पूछे जाएंगे। इसके बाद प्रश्न संख्या दो में भी 06 प्रश्न होंगे और यह भी एक-एक अंक के होंगे। प्रश्न संख्या 03 में दो-दो अंक के चार सवाल पूछे जाएंगे। प्रश्न संख्या 04 में 03 अंक के 05 प्रश्न और सवाल नंबर 05 में 03 अंक के पांच प्रश्न पूछे जाएंगे। इनमें आंतरिक विकल्प नहीं होंगे। प्रश्न संख्या 6,7,8,9 में आंतरिक विकल्प होंगे। ये 5-5 अंक के होंगे।

बच्चों को किरण आरेख, विद्युत परिपथ आरेख का अभ्यास करना चाहिए। पेपर में 60 प्रतिशत सैद्धांतिक व 40 प्रतिशत आंकिक प्रश्न होंगे। आंकिक प्रश्नों का अभ्यास जरूरी है। स्थिर विद्युतकी, धारा का चुम्बकीय प्रभाव और चुम्बकत्व, विद्युत चुम्बकीय प्रेरण और प्रत्यावर्ती धारा, प्रकाशकी और इलैक्ट्रोनिक युक्तियां पर ध्यान दें।

अरविंद कुमार वर्मा, शिक्षक, जुबिली इंटर कॉलेज

नए टॉपिक्स या किताब के चक्कर में बिलकुल न पड़ें। सूत्र की उत्पत्ति, परिभाषा, सूत्र के साथ कुछ सरल न्यूमैरिकल जरूर कर लें। आवश्यकता हो तो चित्र जरूर बनाएं। अच्छे अंक मिलेंगे। आंकिक प्रश्नों को स्टैप वाई स्टैप लिखे। अंत में मात्रक अवश्य लिखें। किसी भी प्रश्न के सभी खण्डों का उत्तर एक ही स्थान पर लिखें।

समोद कुमार मिश्रा, शिक्षक, जुबिली इंटर कॉलेज

यूपी बोर्ड में पहली बार भौतिक विज्ञान (फिजिक्स) का एक पेपर हो रहा है। यह प्रश्नपत्र 70 अंक का होगा। 30 अंक का प्रैक्टिकल होगा। इसमें स्कोर करने का मौका है बशर्ते आप पेपर के पैटर्न को समझ लें और उसके अनुसार प्रैक्टिस करें। पेपर का प्रारूप और इसका मॉडल बोर्ड ने जारी किया है। कुल नौ प्रश्न हैं जिनमें से केवल चार प्रश्न ऐसे हैं जिनमें आंतरिक विकल्प होगा। विषय विशेषज्ञों की राय है कि परीक्षा में जाने से पहले इस सैम्पल पेपर का अभ्यास जरूर करें।

परीक्षा को अब करीब एक सप्ताह का समय बचा है। इस समय का सदुपयोग किया जाना चाहिए। सलाह यह है कि पेपर के पैटर्न को पहले जरूर समझ लें। ऐसा पहली बार है इसलिए परेशानी पैदा कर सकता है।

‘ चैप्टरों की रीडिंग समझ-समझ कर करें।

‘ सूत्र, मात्रक और परिभाषा को बार-बार पढ़ें और याद करें।

‘ लाइट और प्रकाश में डेरीवेशन्स होते हैं, उसकी तैयारी लिख कर तैयार करें।

विद्युतकी, प्रकाश (लाइट), इलेक्ट्रानिक्स, मॉडर्न फिजिक्स और चुंबक्तव की यूनिट का अध्ययन बारीकी से करना चाहिए। पेपर का बड़ा हिस्सा इन्हीं यूनिट से आता है। वैसे तो यूनिटों में विषयवार अंक विभाजन है लेकिन अगर इन यूनिटों को अच्छे ढंग से पढ़ लिया जाए तो पेपर अच्छा हो सकता है।