भारत सबसे तेज जीडीपी ग्रोथ वाला देश बना रहेगा, मौजूदा वित्त वर्ष में 7.3% रहने की उम्मीद…

वॉशिंगटन. वर्ल्ड बैंक ने मौजूदा वित्त वर्ष (2018-19) में भारत की जीडीपी ग्रोथ 7.3% रहने का अनुमान बरकरार रखा है। इसके मुताबिक अगले दो वित्त वर्षों में विकास दर 7.5% रहने की उम्मीद है। खपत और निवेश में बढ़ोतरी को देखते हुए वर्ल्ड बैंक ने यह अनुमान जताया है। उसका कहना है कि भारत दुनिया का सबसे तेज विकास दर वाला देश बना रहेगा। वर्ल्ड बैंक ने मंगलवार को ग्लोबल इकोनॉमिक प्रोस्पेक्ट्स रिपोर्ट जारी की।
चीन की विकास दर 6.2% रहेगी: रिपोर्ट
वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2019 और 2020 में चीन की विकास दर 6.2% रहने के आसार है। साल 2021 के लिए 6% का अनुमान है। साल 2018 में चीन की इकोनॉमिक ग्रोथ 6.5% रहने की उम्मीद है।

साल 2017 में चीन की ग्रोथ 6.9% जबकि भारत की 6.7% रही थी। वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि नोटबंदी और जीएसटी लागू होने की वजह से उस साल भारत की विकास दर कम रही थी।

वर्ल्ड बैंक प्रोस्पेक्ट्स ग्रुप के डायरेक्टर अयहान कोस ने न्यूज एजेंसी से कहा कि भारत में ग्रोथ बढ़ रही है। देश की ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में भी सुधार हुआ है। जीएसटी और बैंक रिकैपिटलाइजेशन जैसे आर्थिक सुधारों से देश की इकोनॉमी को फायदा हुआ है।

सरकार ने मौजूदा वित्त वर्ष में 7.2% ग्रोथ का अनुमान जताया
केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने सोमवार यह अनुमान जारी किया था कि मौजूदा वित्त वर्ष (2018-19) में देश की जीडीपी ग्रोथ 7.2% रहने की संभावना है। पिछले वित्त वर्ष में यह आंकड़ा 6.7% था। एग्रीकल्चर और मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर में सुधार की वजह से इस बार सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) दर का अनुमान बढ़ा है।