क्रेडिट कार्ड बंद करते समय ये सावधानी बरतें….

क्रेडिट कार्ड बनवाने के साथ बंद करवाने में भी सावधानी बरतना जरूरी है। कई लोग सिर्फ संबंधित बैंक को सिर्फ एक फोन या ईमेल कर निश्चिंत हो जाते हैं, जबकि कई वजहों से उनका कार्ड बंद नहीं होता।

अगर आप सही तरीके से क्रेडिट कार्ड बंद नहीं कराते हैं तो संबंधित बैंक आप पर जुर्माना और ब्याज लगा सकता है। अगर एक रुपये का भी बकाया है तो बैंक उसके लिए लगातार जुर्माना ठोका जा सकता है। रखरखाव खर्च भी अलग से देना पड़ेगा। निष्क्रिय कार्ड से धोखाधड़ी की आशंका भी ज्यादा रहती है। ऐसे में तय प्रक्रिया के साथ कुछ सावधानियां बरतना आवश्यक है।

कार्ड का इस्तेमाल नहीं तो बंद कराना बेहतर 
अक्सर हम जल्दबाजी में कई क्रेडिट कार्ड बनवा लेते हैं, लेकिन उनका पर्याप्त इस्तेमाल नहीं कर पाते। जबकि पहले साल के बाद 500 से लेकर पांच हजार रुपये तक रखरखाव खर्च देना पड़ता है। कई कार्ड होने के कारण हम खर्च का सही हिसाब-किताब भी नहीं कर पाते और कर्ज के बोझ तले दब जाते हैं। ऐसे में बिना इस्तेमाल के कार्ड बंद कराना ही बेहतर है।