सरकारी स्कूलों के तीसरी से दसवीं तक के विज्ञान व तीसरी से आठवीं तक की हिंदी

सरकारी स्कूलों के तीसरी से दसवीं तक के विज्ञान व तीसरी से आठवीं तक की हिंदी के सिलेबस अपडेट किये जायेंगे। इसमें कुछ चैप्टर हटाए जाएंगे। इनकी जगह आज की जरूरत के अनुसार नये चैप्टर व टॉपिक जोड़े जाएंगे। एससीईआरटी ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। कोशिश है कि बोझिल चैप्टर-टॉपिक को हटाया जाए। और वैसे टॉपिक को जोड़ा जाए, जिसे पढ़ने में बच्चों को आसानी हो। 11 साल बाद सिलेबस में बदलाव किया जा रहा है। इसके पहले 2007 में सभी विषयों के सिलेबस को बदला गया था। मिलर हाईस्कूल की हिन्दी की शिक्षिका इंदू कुमारी सिन्हा ने बताया कि सिलेबस अपडेट करना बहुत जरूरी है। क्योंकि अब इसके कई टॉपिक प्रासंगिक नहीं रहे। 50 शिक्षक तैयार कर रहे दोनों विषयों के कंटेट साइंस और हिन्दी के लिए नये कंटेंट तैयार करने को राज्यभर के 50 शिक्षकों की टीम बनाई गयी है। अभी सिलेबस के हर चैप्टर का अध्ययन किया जा रहा है। टीम में शामिल शिक्षकों की मानें तो चैप्टर को अपडेट के साथ अपग्रेड भी किया जा रहा है। . अक्टूबर में होगी वर्कशॉप कंटेंट तैयार करने के बाद उसे चैप्टर के अनुसार शामिल करने की प्रक्रिया शुरू होगी। इसको लेकर अक्टूबर के पहले सप्ताह में 10 दिनों की कार्यशाला होगी। इसमें तैयार कंटेंट पर विचार होगा। इसके बाद उसे संबंधित चैप्टर में शामिल किया जायेगा।