CBSE स्कूलों में होगा काउंसलिंग सेशन, पैटर्न पर दिए जाएंगे टिप्स

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने रजिस्टर्ड स्कूलों को काउंसलिंग क्लास करवाने के लिए कहा है. बोर्ड ने कक्षा 10वीं और 12वीं के बच्चों के लिए यह क्लास लगाने के लिए कहा है, जिसमें बोर्ड परीक्षार्थियों को बोर्ड की ओर से तय पैटर्न सिखाने के लिए कहा है. यह सेशन छात्रों को पैटर्न से जुड़ी दिक्कतों को दूर करने में मदद करेगा. यह प्रतिदिन एक घंटे का सेशन होगा, जिसमें बोर्ड पैटर्न की जानकारी दी जाएगी.

इस सेशन का उद्देश्य परीक्षार्थियों को आगामी परीक्षाओं के लिए तैयार करना है. परीक्षार्थी इस सेशन के माध्यम से अपनी सभी दिक्कतों को दूर कर सकेंगे. वहीं इस बार बोर्ड ने परीक्षार्थियों के लिए मॉडल पेपर भी जारी कर दिए हैं, जिसके माध्यम से उम्मीदवार प्रेक्टिस कर सकते हैं. परीक्षार्थी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर मॉडल पेपर के साथ पिछले साल के पेपर भी डाउनलोड कर सकते हैं.

CBSE ने बदला क्राइटेरिया, पास होने के लिए चाहिए इतने मार्क्स!

हालांकि अभी परीक्षा की तारीखों का ऐलान नहीं हुआ है. बताया जा रहा है कि जल्द ही परीक्षा की तारीखों का ऐलान कर दिया जाएगा और दिसंबर के मध्य तक बोर्ड परीक्षाओं की डेटशीट भी जारी कर दी जाएगी.

सीबीएसई कक्षाओं के पासिंग मार्क्स को लेकर बड़ा बदलाव कर सकता है. बोर्ड की ओर से किए गए इस बदलाव के अनुसार 10वीं कक्षा के छात्रों को 2019 में पास होने के लिए ओवरऑल 33 फीसदी अंक लाने होंगे. जिसमें इंटरनल एसेसमेंट और थ्योरी के नंबर शामिल होंगे.

इस बार जल्दी होंगे बोर्ड एग्जाम, ध्यान में रखें ये बातें

बता दें कि अभी तक छात्रों को परीक्षा में पास होने के लिए थ्योरी में अलग से 33 प्रतिशत और प्रैक्टिकल में अलग 33 प्रतिशत अंक लाने होते थे. लेकिन अब थ्योरी-प्रैक्टिकल में मिलाकर कुल 33 प्रतिशत नंबर लाने होंगे.