मोदी की आज ग्वालियर में सभा, पानी की बोतल, डिब्बे और थैले हैं प्रतिबंधित; मोबाइल पर छूट

ग्वालियर. प्रधानमंत्री मोदी शुक्रवार को ग्वालियर आएंगे। यहां वे मेला मैदान में भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में आमसभा को संबोधित करेंगे। इससे पहले 21 नवंबर 2013 को उन्होंने फूलबाग मैदान में आमसभा को संबोधित किया था। इस तरह शुक्रवार को वह करीब पांच साल बाद ग्वालियर में होंगे। प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी की यह पहली ग्वालियर यात्रा होगी। इसलिए सुरक्षा के लिहाज से  शहर में  हाईअलर्ट है।

एयरपोर्ट से मेला ग्राउंड तक सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। पानी की बोतल, थैले, फूलमाला और डिब्बे सभा स्थल पर प्रतिबंधित किए गए हैं। हालांकि सभा सुनने वाले मोबाइल साथ ले जा सकेंगे। लेकिन, उनका इस्तेमाल सिर्फ फोटो खींचने और वीडियो बनाने में हो सकेगा। क्योंकि सभास्थल पर जैमर लगे होंगे।

 

पीएम की सुरक्षा में 400 पुलिस अधिकारी और 2 हजार जवान तैनात रहेंगे। सभा स्थल के इर्दगिर्द 700 जवान तैनात रहेंगे, इसमें एसटीएफ और बीएसएफ भी शामिल हैं।  पीएम एयरपोर्ट से सभा स्थल पर पहुंचने के बाद सबसे पहले मंच के पास दर्शक दीर्घा में मौजूद 70 अतिविशिष्ट लोगों से मुलाकात करेंगे। इनमें शहर के व्यापारी, राजनेता और गणमान्य लोग शामिल हैं। इसके बाद वह मंच पर जाकर सभा को संबोधित करेंगे।

 

इंद्रमणी नगर से मंच तक पहुंचेगा पीएम का काफिला : प्रधानमंत्री मोदी का काफिला इंद्रमणी नगर से मेला ग्राउण्ड के अंदर जाने वाले रास्ते से सभा स्थल पहुंचेगा। यहां से सिर्फ प्रधानमंत्री गुजरेंगे। प्रधानमंत्री पीछे से होते हुए मंच के दायीं ओर दीर्घा में खड़े लोगों से मिलते हुए मंच पर पहुंचेंगे। प्रधानमंत्री से मिलने के बाद यह लोग वीवीआईपी ब्लॉक में बैठेंगे।

 

पीएम के काफिले में रहेंगे 10 वाहन : प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर पिछले पांच दिन से चल रही तैयारियों को पुलिस अधिकारियों ने गुरुवार शाम को अंतिम रूप दिया। गुरुवार शाम को पुलिस अधिकारियों ने रियल टाइम रिहर्सल भी की। मंच पर बैठने वालों से लेकर पीएम से मिलने वालों तक के नाम की सूची फाइनल की गई।

एयरपोर्ट से लेकर सभा स्थल तक की सुरक्षा के लिए पुलिस ने पूरा प्लान तैयार किया। महाराजपुरा एयरबेस पर विशेष विमान से उतरने के बाद पीएम सड़क मार्ग से सभा स्थल पहुंचेंगे। एयरबेस से भिंड रोड, बिड़ला हॉस्पिटल, ब्रिगेडियर तिराहा, इंद्रमणी नगर होते हुए सभा स्थल पर पहुंचेंगे। उनके काफिले में सिर्फ 10 वाहन रहेंगे। यह वह वाहन हैं, जो प्रधानमंत्री की सुरक्षा में रहते हैं। इसमें एसपीजी और अन्य बलों के अधिकारी भी रहेंगे।

12 प्रवेश द्वार, सभी पर रहेंगे मेटल डिटेक्टर : सभा स्थल तक पहुंचने के लिए 12 प्रवेश द्वार बनाए गए हैं। हर प्रवेश द्वार पर डीएफएमडी(डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर) और एचएचएमडी(हेंड हेल्ड मेटल डिटेक्टर) लगेंगे।
{सभा स्थल पर 3 वॉच टावर भी बनाए गए हैं। इन पर पुलिसकर्मी दूरबीन से निगाह रखेंगे। यहां से रिकॉर्डिंग भी होगी।

{सभा का मंच 56 फीट चौड़ा रहेगा। मंच और वीवीआईपी ब्लॉक के बीच डी आकार का सुरक्षा घेरा रहेगा। मंच से करीब 90 फीट दूर यह घेरा 60 फीट लंबा और 120 फीट चौड़ा रहेगा। इसके अंदर कोई नहीं जा सकेगा। डी से मंच के बीच त्रि-स्तरीय सुरक्षा घेरा रहेगा।
{मंच की ऊंचाई आठ फीट है, जिस पर पहुंचने के लिए दो सीढ़ी बनाई गई हैं। एक सीढ़ी से पीएम मोदी मंच पर पहुंचेंगे और दूसरी सीढ़ी अन्य लोगों के लिए रहेगी।
{सभा स्थल पर लोगों के बैठने के लिए आठ ब्लॉक बनाए गए हैं। एक ब्लॉक में 20 रो हैं, एक रो में 55 कुर्सियां रखी गई हैं। इस तरह एक ब्लॉक में 1100 लोगों के हिसाब से आठ ब्लॉक में 8800 लोग कुर्सियों पर बैठ सकेंगे।

शाम 5 से 6.30 बजे के बीच इन रास्तों पर जाने से बचें : ग्वालियर | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एयरबेस से भिंड रोड होते हुए डीडीनगर, पिंटो पार्क, पानी की टंकी, बिड़ला हॉस्पिटल, इंद्रमणी नगर, मेला ग्राउण्ड पहुंचेंगे। अगर आप इन रास्तों से शुक्रवार शाम को निकलने वाले हैं तो इन रास्तों पर जाने से बचें। शाम 5 से 6.30 बजे के बीच पीएम दो बार इस रास्ते से गुजरेंगे और पीएम का काफिला निकलने से पहले यहां ट्रैफिक रोका जाएगा। डेढ़ घंटे में दो बार ट्रैफिक रोका जाएगा इसलिए इन रास्तों पर जाम लग सकता है।
यातायात पुलिस ने डायवर्सन पॉइंट भी बनाए हैं। द्वारिका सिटी के सामने, पानी की टंकी तिराहा, गोला का मंदिर चौराहा, सूर्य नमस्कार तिराहा, दुल्लपुर तिराहा, 7 नंबर चौराहा, सिमको तिराहा, आकाशवाणी तिराहा, लक्ष्मणगढ़, अटल द्वार से वाहन डायवर्ट किए जाएंगे।

कार्केड और सभा स्थल पर लगेगा मोबाइल जैमर : पीएम के कार्केड में कंट्रोल कमांड व्हीकल चलेगा, जिस पर मोबाइल जैमर कार्केड के साथ रहेगा। इसके अलावा सभा स्थल पर भी मोबाइल जैमर लगेगा। सभा स्थल पर बीडीएस की टीम तैनात रहेगी, दिल्ली से आई बीडीएस की टीम भी यहां तैनात रहेगी। वहीं सभा स्थल पर फायर ब्रिगेड की 4 गाड़ियां खड़ी रहेंगी

ऊंची इमारतों पर तैनात किए सुरक्षाकर्मी : एयरपोर्ट से मेला ग्राउण्ड के बीच पीएम दो बार गुजरेंगे। इस दौरान ऊंची इमारतों पर दूरबीन और हथियारों के साथ जवान तैनात रहेंगे। सभा स्थल पर सादा वर्दी में भी जवान तैनात रहेंगे। ऊंची इमारतों पर एनवीडी सिक्योरिटी सिस्टम भी लगाया जाएगा